Mukesh Ambani biography in Hindi | मुकेश अंबानी की जीवनी - khabarcelebrity-Bollywood,movies,video & photos

Search

Friday, January 25, 2019

Mukesh Ambani biography in Hindi | मुकेश अंबानी की जीवनी

Mukesh Ambani biography in Hindi | मुकेश अंबानी की जीवनी
Mukesh Ambani biography in Hindi | मुकेश अंबानी की जीवनी







नमस्ते दोस्तो, मैं जीउत राय अाप सभी का khabarcelebrity.com website पर स्वागत करता हूं आज मै भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी के जीवन पर इक लेख लिख रहा हूं ।पसंद आए तो शेयर करें



मुकेश अंबानी की परिचय- -


मुकेश अंबानी का जन्म 19 अप्रैल 1957 को यमन में में हुआ था। अंबानी एक भारतीय व्यवसायी हैं और फ़ोर्ब्स सूची के अनुसार 2018 में लगभग 40.1 अरब डॉलर की निजी सम्पत्ती के साथ भारत के सबसे अमीर व्यक्ति और दुनिया के उन्नीसवें सबसे अमीर आदमी हैं।वे रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक और कंपनी के सबसे बड़े शेयर धारक हैं। यह भारत में निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी तथा फॉर्चून के 500 कंपनी है। रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी व्यक्तिगत हिस्सेदारी 48 % है। उनकी संपत्ति का मूल्य (फोर्ब्स के अनुसार) 40.1 अरब अमेरिकी डॉलर है, जिस से वे भारत के सबसे अमीर आदमी साबित होते हैं। तथा उनकी कंपनी रिलायंस जियो भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी है।

मुकेश और उनके छोटे भाई अनिल रिलायंस इंडस्ट्रीज के संस्थापक स्वर्गीय धीरू भाई अम्बानी के बेटे हैं। मुकेश इंडियन प्रीमियर लीग की टीम मुंबई इंडियंस के मालिक भी हैं।

मुकेश अंबानी की पढ़ाई-


उन्होंने अपने भाई और उनके सहकर्मी आनंद जैन के साथ पेद्दार रोड, मुंबई में हिल ग्रेंज हाई स्कूल में उन्होंने पढाई की। और इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी, माटुंगा में उन्होंने केमिकल इंजीनियरिंग में अपनी B.E की डिग्री प्राप्त की। बाद में मुकेश ने Stanford विश्वविद्यालय से MBA करना चाहा लेकिन वे उस से अलग हो गये और रिलायंस बनाने में अपने पिता की मदद करने लगे. जो उस समय भी एक छोटी लेकिन तेज़ी से बढ़ने वाली संस्था थी।

मुकेश अंबानी सामान्य ज्ञान-

मुकेश धीरुभाई अंबानी भारतीय व्यापर के प्रभावशाली व्यक्ति और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के अध्यक्ष, मैनेजिंग डायरेक्टर और सबसे बड़े शेयरहोल्डर है। रिलायंस कंपनी विश्व की 500 सौभाग्यशाली कंपनी में शामिल है और मार्केट वैल्यू के हिसाब से भारत की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है। वो विश्व की सबसे महँगी महल एन्टीलीया बिल्डिंग में रहते है।
उन्होंने अपनी कंपनी का 44.7% स्टैक पकड़ कर रखा है। वे धीरुभाई अम्बानी के बड़े बेटे और अनिल अंबानी के भाई है। RIL विशेषतः पेट्रोलियम रसायन (Refining Petrochemical) और तेल और गैस क्षेत्र से समझौता करती है। रिलायंस रिटेल लिमिटेड जो RIL की ही एक सहायक कंपनी है, वह भी भारत की सबसे बड़ी रिटेलर कंपनी है।
2014 में, फोर्ब्स के 2010 के 100 सर्वाधिक शक्तिशाकी और ताकतवर लोगो की सूचि में उन्हें शामिल किया गया। वो फ़ोर्ब्स की “68 सबसे महत्वपूर्ण लोग” की सूचि में भी शामिल है।
2013 में वह भारत के सबसे अमिर और एशिया के दुसरे सबसे अमीर व्यक्ति कहलाये। अम्बानी ने अपने इस शीर्षक (भारत के सबसे अमीर व्यक्ति) को 9 सालो तक बरक़रार रखा। रिलायंस की ही तरह उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रेंचाईसी मुंबई इंडियन्स को भी ख़रीदा। 2012 में, फ़ोर्ब्स ने उन्हें विश्व के सबसे अमिर “Sport Owner” का सम्मान दिया।
उन्होंने बैंक ऑफ़ अमेरिका कारपोरेशन और इंटरनेशनल एडवाइजरी बोर्ड ऑफ़ फॉरेन रिलेशन के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर की तरह सेवा की। वे भारतीय मैनेजमेंट संस्था, बंगलौर के अध्यक्ष भी रह चुके है, जो भारत की सर्वोच्च व्यापार स्कूल के नाम से जानी जाती है।

मुकेश अंबानी की कार्य-

मुकेश अम्बानी ने 1982 में रिलायंस में काम संभाला और रिलायंस के पुराने ढर्रे के टेक्सटाइल कारोबार को पॉलिएस्टर फाइबर और फिर पेट्रोकेमिकल में आगे बढाया. इस प्रक्रिया में उन्होंने 60 नयी, विश्व स्तर की, विभिन्न तकनीकों से युक्त निर्माण सुविधाओं की रचना को निर्देशित किया, इस से रिलायंस की जो उत्पादन क्षमता 10 लाख टन प्रति वर्ष भी नहीं थी वह 1 करोड़ 20 लाख टन प्रतिवर्ष हो गयी।
उन्होंने ने जामनगर (गुजरात, भारत) में बुनियादी स्तर की विश्व की सबसे बड़ी पेट्रोलियम रिफायनरी की स्थापना की। वर्तमान में इसकी क्षमता 60000 बैरल प्रति दिन है यानी 3 करोड़ 30 लाख टन प्रति वर्ष. 100000 करोड़  रुपयों (लगभग 26 बिलियन अमरीकी डॉलर) के निवेश से बनी इस रिफायनरी में पेट्रोकेमिकल, पावर जेनरेशन, पोर्ट तथा सम्बंधित आधारभूत ढांचा है।
मुकेश अम्बानी ने भारत की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनियों में से एक रिलायंस कम्युनिकेशंस  (पहले रिलायंस इंफोकॉम) लिमिटेड को स्थापित किया। हालांकि, दोनों भाइयों में अलगाव होने के बाद रिलायंस इंफोकॉम अनिल धीरूभाई अंबानी समूह (Anil Dhirubhai Ambani Group) में चली गयी। अगर दोनों भाई अलग नहीं हुए होते और मुकेश प्रेजिडेंट बने रहते तो उनकी कुल संपती 15 बिलियन डॉलर होती और वे धरती पर सबसे ज़्यादा अमीर आदमी होते, वह भी एक बड़े अन्तर से. अंबानी के नेतृत्व में, रिलायंस ने अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी रिलायंस रीटेल (Reliance Retail) के अंतर्गत खुदरा बाज़ार में प्रवेश किया।
इनकी अगुआई में रिलायंस रीटेल ने डीलाईट स्टोर की नयी चेन भी लॉन्च की है। और नोवा केमिकल्स (NOVA Chemicals) के साथ रिलायंस रीटेल को ऊर्जा सक्षम बनने हेतु इस आशय का अनुबंध भी किया है।
अम्बानी इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) की टीम मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के मालिक हैं, जो 2013 में फाईनल में पहुँच पायी. इन्होने मुंबई में धीरू भाई अम्बानी इन्टरनेशनल स्कूल की स्थापना भी की है।

मुकेश अंबानी को पुरस्कार -

  • एन डी टी वी द्वारा कराये गए सार्वजनिक चुनाव में साल 2009 के बिज़नसमैंन ऑफ़ दा ईयर चुने गए।
  • यूनाईटेड स्टेटस-इंडिया बिज़नस कौंसिल (USIBC) ने वाशिंगटन में 2009 में "ग्लोबल विज़न" के लिए लीडरशिप अवार्ड दिया।
  • विश्व के सबसे सम्मानित बिज़नस लीडरों में 42वा स्थान हासिल किया। प्राईस वाटर हाउस कूपर्स (Pricewaterhouse Coopers) द्वारा कराये गए एवं फाइनेंशियल टाइम्स (Financial Times), लन्दन में नवम्बर 2009 में प्रकाशित सर्वे में चार सी ई ओ में दूसरा स्थान मिला।
  • टोटल टेलिकॉम ने अक्टूबर, 2008 में दूरसंचार के क्षेत्र में सबसे प्रभावशाली व्यक्ति के तौर पर वर्ल्ड कम्युनिकेशन अवार्ड दिया गया।
  • वौइस् एंड डाटा पत्रिका ने सितम्बर 2004 में टेलिकॉम मैंन ऑफ़ दा ईयर चुना गया।
  • फोर्च्यून पत्रिका के अगस्त 2004 अंक में सबसे शक्तिशाली कारोबारियों की एशिया पॉवर 25 सूचि में 23वा स्थान दिया गया।
  • एशिया सोसाइटी, वॉशिंगटन डी सी द्वारा एशिया सोसाइटी लीडरशिप अवार्ड प्रदान किया गया। संयुक्त राज्य अमरीका, मई 2004 .
  • इंडिया टुडे के मार्च 2004 अंक में द पॉवर लिस्ट 2004 में लगातार दुसरे साल पहला स्थान हासिल किया।
  • जून 2009 में भारत के पहले Trillionaire चुने गए।
  • गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों "चित्रलेखा पर्सन ऑफ़ द ईयर --2009" पुरस्कार प्राप्त किया।

पढ़ने के लिए धन्यवाद,
By jiut ray

No comments:

Post a Comment